अर्णब को गिरफ्तार करने के लिये पूर्व शिवसेना नेता को मुंबई पुलिस ने उतारा था, अब तक 63 एनकाउंटर

0
11

सचिन वझे करीब 13 साल बाद 6 जून 2020 को दोबारा पुलिस फोर्स में लौटे हैं, साल 2007 में उन्होने मुंबई पुलिस से रिजाइन दे दिया था।

New Delhi, Nov 07 : रिपब्लिक टीवी के संपादक अर्णब गोस्वामी आत्महत्या के लिये उकसाने के आरोप में न्यायिक हिरासत में हैं, बुधवार 14 नवंबर को मुंबई पुलिस की एक टीम ने उन्हें अपने आवास से हिरासत में लिया था, उनकी गिरफ्तारी के लिये मुंबई पुलिस ने खास तैयारी की थी, इस हाईप्रोफाइल केस में पुलिस टीम को लीड कर रहे थे एनकाउंटर स्पेशलिस्ट सचिन वझे, आइये आपको बताते हैं कि सचिन वझे कौन हैं।

13 साल बाद पुलिस फोर्स में लौटे
सचिन वझे करीब 13 साल बाद 6 जून 2020 को दोबारा पुलिस फोर्स में लौटे हैं, साल 2007 में उन्होने मुंबई पुलिस से रिजाइन दे दिया था, सचिन ने साल 1990 में बतौर सब इंस्पेक्टर मुंबई पुलिस ज्वाइन की थी, उनके नाम कुल 63 एनकाउंटर दर्ज है, उन्हें एनकाउंटर स्पेशलिस्ट कहा जाता है।

गुर्गों को मौत के घाट उतारा
सचिन वझे ने छोटा राजन और दाऊद इब्राहिम के कई गुगों को मौत के घाट उतारा है, एनकाउंटर स्पेशलिस्ट प्रदीप शर्मा उनके बॉस हुआ करते थे, सचिन समेत 14 पुलिस वालों को साल 2004 में सस्पेंड कर दिया गया था, उन सब पर 2002 घाटककोपर ब्लास्ट के आरोपी ख्वाजा यूनिस के कस्टोडियल डेथ का आरोप लगा था।

नाराज होकर छोड़ दी नौकरी
सस्पेंशन खत्म ना होने से नाराज होकर साल 2007 में सचिन वझे ने पुलिस बल से रिजाइन कर दिया, 30 नवबंर 2007 को मुंबई पुलिस की नौकरी छोड़ने के बाद 2008 में शिवसेना से जुड़े, फिर 2020 में कोरोना महामारी के बीच दोबारा वो नौकरी पर लौटे, दोबारा फोर्स में आने के बाद अर्णब गोस्वामी को हिरासत में लेकर एक बार फिर से सचिन चर्चा में हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here