शादी की तैयारियों में जुटा था परिवार, दरोगा बिटिया ने कर ली आत्महत्या, शहनाई से पहले छाया मातम

0
8

उत्तर प्रदेश के शामली से एक बेहद अजीब मामला सामने आया है, जहां शामली के गढ़ी पुख़्ता थाना क्षेत्र के गांव भैंसवाला निवासी कृष्णपाल पवार की बेटी आरजू ने आत्महत्या कर ली। इस खबर से परिवार में सन्नाटा पसर गया है। आरजू ने करीब ढाई साल पहले जिला बुलंदशहर के अनूप शहर कोतवाली में बतौर दरोगा तैनाती की थी। ऐसे में शादी से कुछ दिन पहले बेटी की मौत की खबर ने परिवार वालों को हिला कर रख दिया है।

Social Media

खबरों की मानें तो आरजू ने शुक्रवार को अपने क्वाटर पर आत्महत्या की है। शनिवार दोपहर आरजू का शव उनके पैतृक आवास भैंस वाला लाया गया। शव के घर पहुंचते ही परिवार के साथ-साथ पूरे गांव में भी सन्नाटा पसर गया। मालूम हो कि अलगे महीने फरवरी में आरजू की शादी होने वाली थी। ऐसे में शहनाई बजाने की तैयारी कर रहा परिवार शव देखकर कर मातम में है।

Social Media

बता दे आरजू चार भाई-बहनों में सबसे छोटी है। उनके परिवार में माता-पिता के अलावा सबसे बड़ी बहन सोनिया और दो भाई सोनू और मनीष है। परिवार में सभी शिक्षित और अच्छे दर्जे पर कार्यरत हैं। बड़ा भाई सोनू दुबई में इंजीनियर है और दूसरा भाई मनीष सेना में तैनात है। आरजू ने साल 2015 में पुलिस विभाग में भर्ती ली थी। वर्तमान में वह बुलंदशहर के अनूप शहर कोतवाली में बतौर दरोगा तैनात थी।

Social Media

आरजू का शव उनके पैतृक आवास लाया गया, जिसके बाद गांव के सभी लोग उनके घर पहुंचे। गढ़ी पुख़्ता थाना प्रभारी महावीर प्रसाद और आदर्श मंडी थाना अध्यक्ष संदीप बलिया अपने क्षेत्र के पुलिसकर्मियों के साथ आरजू के घर पहुंचे और पुलिस विभाग की तरफ से परिवार को सहानुभूति व्यक्त की।

Social Media

वहीं अब तक आरजू के आत्महत्या करने के मामलों में अब तक कोई खुलासा नहीं हुआ है। ना ही कोई बात सामने आई है कि आखिर उन्होंने आत्महत्या क्यों की। वहीं माले की जांच पड़ताल जारी है।

Social Media

आरजू के करीबियों का कहना है कि वह साधारण परिवार से ताल्लुक रखती थी। साथ ही वह व्यवहार में कुशल, मिलनसार और अपने काम के प्रति बेहद लगनशील थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here