लिवइन में रहने और शराब पीने की मिली छूट, UAE ने इस्लामी कानूनों में किया बड़ा बदलाव

0
3

संयुक्त अरब अमीरात यानी यूएई ने शनिवार को इस्लामिक पर्सनल कानून के तहत बड़ा बदलाव करते हुए ऐतिहासिक फैसला किया है। अपने इस फैसले के तहत उन्होंने लिवइन रिलेशनशिप और शराब प्रतिबंधों में ढील के साथ-साथ ऑनर किलिंग के मामले को भी अपराध की श्रेणी में रखे जाने का फैसला किया है।

uae-islamic-personal-law-allows-unmarried-couples-to-live-together-and-alcohol-consumption
Social Media

संयुक्त अरब अमीरात में इस्लामिक कानून बेहद कड़े होते हैं ऐसे में सरकार का यह फैसला एक बड़े बदलाव की ओर इशारा करता है। अमीरात के शासकों के बदलते वक्त के साथ तालमेल की कड़ी इस फैसले से साफ होती है।

इन बदलावों के साथ अमेरिका की मध्यस्थता में एक अन्य महत्वपूर्ण घोषणा भी की गई है, जिसके तहत यूएई और इजरायल के बीच संबंधों में सुधार के प्रयासों की बात कही गई है। इससे यूएई में इज़राइल टूरिस्ट का आना-जाना बढ़ जायेगा और साथ ही नए निवेश के रास्ते भी खुल जाएंगे।

uae-islamic-personal-law-allows-unmarried-couples-to-live-together-and-alcohol-consumption
Social Media

गौरतलब है कि यूएई ने अपने इस कानूनी बदलाव के फैसले के तहत जिन नियमों में बदलाव किया है उनमें प्रमुख तौर पर शराब को लेकर बनाए गए सख्त नियमों में ढिलाई दी गई है। इसके तहत अब 21 साल या उससे ऊपर के किसी भी व्यक्ति पर शराब पीने बेचने या फिर रखने पर फाइन नहीं लगाया जाएगा। वही बता दें इससे पहले लोगों को शराब खरीदने उसके वाहन परिवहन या अपने घर में रखने के लिए लाइसेंस लेना जरूरी होता था।

uae-islamic-personal-law-allows-unmarried-couples-to-live-together-and-alcohol-consumption
Social Media

इतना ही नहीं पुराने नियमों के तहत मुस्लिम लोगों पर शराब पीने पर प्रतिबंध था, जिसे अब हटा दिया गया है। इसके साथ ही बिना शादी के एक साथ रहने यानी लिव इन रिलेशनशिप को भी मंजूरी दे दी गई है।

यह यूएई में एक समय में एक गंभीर अपराध की श्रेणी में आने वाला मामला है। साथ ही महिला पर होने वाले सम्मान के खिलावड़ के चलते ऑनर किलिंग के मामलों को भी अब अपराध की श्रेणी में रखे जाने का फैसला किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here