पंचायत ने दिया भाभी से शादी करने का आदेश तो युवक ने उठाया ये कदम

0
10




झारखंड में पंचायत के फैसले के दबाव में आकर एक युवक ने अपनी जान दे दी है।इस खबर आप पास के इलाकों में चर्चा का विषय बनी हुई है। दरअसल झारखंड के रामगढ़ जिले में एक 26 वर्ष के व्यक्ति ने फांसी लगा लिया है। बताया जा रहा है कि वहां के पंचायत ने उसके बड़े भाई की पत्‍नी और विधवा भाभी से शादी करने को कहा है।

सूत्रों से यह पता चला है कि वह उस विवाहित महिला के साथ अवैध संबंध रख रहा था, इसलिए उसे यह सजा दिया गया है और इसको सजा के तौर पर ऐसा करने को कहा गया हैं।

पुलिस ने यह भी कहा है, कि लव कुमार जो अब इस दुनिया मे नहीं रहा उसे मंगलवार शाम पुरबाडीह गांव से उसके घर में ही एक कमरे की छत से लटका हुआ पाया गया है। उनके पिता सुखलाल महतो ने पुलिस को संपर्क किया और अपने बेटे की आत्‍महत्‍या के लिए पंचायत सदस्यों के खिलाफ एक शिकायत लिखवाई है।

एक पुलिस अधिकारी द्वारा कहा गया है कि मामले की जांच हो रही है। उन्होंने बताया कि आत्महत्या करने वाले के शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेज गया हैं।

अब तक पंचायत में सुनाए जाने वाले हर फैसले को लोग पंच परमेश्वर का फैसला मानकर अपना ले रहे थे ,लेकिन कभी कभी पंच ऐसा फैसला कर देते है जिसके खिलाफ लोगो को उसका विरोध करना पड़ता है या लोग अपना ही जीवन को खत्म कर देते है। यह मामला भी कुछ ऐसा ही था। इस युवक को अपनी विधवा भाभी से शादी करने का पंचायत द्वारा फैसला सुनाया गया ये सुनने के बाद युवक पंचायत में बार-बार इस शादी से इंकार कर रहा था । लेकिन पंच ने युवक की बात नहीं मानी। इसके बाद युवक ने अपने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है।

पुलिस ने यह भी बताया कि शिकायत के अनुसार पिछले वर्ष महतो के बड़े बेटे की सड़क हादसा में उसकी मौत हो गई थी। पंचायत ने उनके छोटे बेटे लव को उनकी बड़ी बहू से विवाह करने का फरमान सुनाया, लेकिन इस अनैतिक संबंध के लिए वह तैयार नहीं हुआ और पूरबडीह गांव स्थित अपने मकान में मंगलवार की रात फांसी लगा ली है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here