त्रिपुरा की महिलाओं ने बनाए बांस के सस्ते-डिजाइनदार इको-फ्रेंडली कैंडल-दीए

0
3

दीपावली का समय नज़दीक है और हमारे हिन्दू धर्म के अनुसार इस त्यौहार को बहुत धूम-धाम से मनाया जाता है. बता दें, सरकार की गाइड लाइन के मुताबिक़… बाज़ारों में किसी भी तरह की बिक्री को ना मंज़ूरी दे दी गई है जो पर्यावरण को नुक्सान पहुंचाती है, इसीलिए इस बार लोगों ने हर त्यौहार की तरह इस त्यौहार को भी इको फ्रेंडली बनाने का फैसला किया है.

त्रिपुरा के लोगों ने दीपावली के ख़ास दिन के लिए कुछ अलग ही करने का सोचा है. यहां बांस के दिए बनाए गए हैं. इन दीयों को सेपाही जिला की महिलाओं ने बनाया है, जिसे त्रिपुरा के सीएम विप्लव देव ने लांच किया था.

Social Media

त्रिपुरा की जिन महिलाओं ने यह दिए बनाए थे, उनमे से एक का कहना था कि डीएम बीडीओ और क्लस्टर कोऑर्डिनेटर जबतक हमारे पास बांस के कैंडल बनाने का प्रपोजल लेकर नहीं आए, तब तक हमे कुछ भी जानकारी नहीं थी. हमने उनके दिए प्रपोजल को एक्सेप्ट कर लिया और नए साइज, डिज़ाइन के दिए दिए बना दिए जिनके अलग अलग दाम रखे गए.

हालांकि अभी तक इन दीयों की बिक्री शुरू नहीं हुई है, लेकिन जल्द ही इन दीयों की बिक्री शुरू की जाएगी. अनुमान लगाया जा रहा है कि इन दीयों को बाकि के दूसरे देश भी बनाना शुरू कर देंगे और इसकी बिक्री ज़्यादा से ज़्यादा होगी.

Social Media

बता दें, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी अपने कार्यक्रम मन की बात में बांस के सेक्टर की चर्चा की थी जिसमे उन्होंने त्रिपुरा की इन महिलाओं की जमकर तारीफ भी की थी.

इन दीयों की बात करें तो इनको ऐसे तैयार किया गया है कि वह आसानी से जलेंगे भी और इनसे आग लगने या फिर फैलने का खतरा भी नहीं होगा. ऐसे में इन दीयों को इको-फ्रेंडली होने का तमगा दिया गया है क्यूंकि, यह दिए बच्चे- बड़े-बूढ़े सभी के लिए सेफ हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here