इस लाइलाज बीमारी से जूझ रही हैं सैफ की बेटी सारा, होती है ज्यादातर महिलाओं को, जानें लक्षण…

0
3




बॉलीवुड की उभरती अदाकारा सारा अली खान ‘कॉफी विद करण’ में करन जौहर के साथ बातचीत करते हुए एक राज़ का खुलासा किया था । सारा ने बताया कि उन्हें एक गंभीर बीमारी है। जिसके कारण उनका वजन लगातार बढ़ता जा रहा था। हलाकि अब उन का वज़न काफी काम हो गया है । दरअसल सारा अली खान को पॉलीसिस्टिक अंडाशय सिंड्रोम(PCOS) नामक लाइलाज बीमारी है। इस गंभीर बीमारी से अधिकतर लड़कियां को सामना करना पड़ता है। इस बीमारी में बढ़ता वजन और अनियमित पीरियड्स जैसे लक्षणों को देखा जा सकता है।आखिर इस बीमारी में [ पीसीओएस ] क्या है ? और इसके लक्षण और उपाय के बारे में बात करेंगे ।

इस बिमारी के कारण लड़कियों के हार्मोन असुंतलन की स्थिति उत्पन्न होने लगती है। ऐसे में महिलाओं के शरीर में फीमेल हार्मोन की बजाय मेल हार्मोन (एण्ड्रोजन) का स्तर ज्यादा बढ़ने लगता है। पीसीओएस होने पर अंडाशय में कई गांठे (सिस्ट) बनने लगती हैं। ये गांठे छोटी-छोटी थैली के आकार की होती हैं और इनमें तरल पदार्थ भरा होता है। धीरे-धीरे ये गांठे बड़ी होने लगती हैं और फिर ये ओव्यूलेशन की प्रक्रिया में रुकावट डालती हैं। ओव्यूलेशन की प्रक्रिया ना होने की वजह से ही पीसीओएस से पीड़ित महिलाओं में गर्भधारण की संभावना कम रहती है। पीसीओएस होने पर महिलाओं में टाइप-2 डायबिटीज होने की संभावना भी बढ़ जाती है। ये एक ओवेरी सम्बन्धी बीमारी है ।

पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम के लक्षण : वैसे तो इस मेडिकली इस बीमारी की कोई दवा नहीं है,लेकिन अगर इनके शुरुआती लक्षणों के पहचान लिया जाएं तो इस खतरनाक बीमारी से बचा जा सकता है।आइये जानते है इसके लक्षण।

पीरियड्स के समय अधिक खून बहना।अनियमित पीरियड्स लगातार वजन बढ़ना सिरदर्द व्यवहार में बदलाव नजर आना,यौन इच्छा की कमी। अनचाहे बाल निकलना। मुंहासे होना, अनिद्रा स्किन संबंधी रोगों का सामने आना, जैसे अचानक भूरे रंग के धब्बों का उभरना या बहुत ज्यादा मुंहासों का होना। शादीशुदा महिलाओं में बांझपन या गर्भ न ठहरना।

आइये जानते है पीसीओएस होने का कारण : डायबिटीज या फिर हाई ब्लड प्रेशर लगातार वजन बढ़ना, आधिक मात्रा में जंक फूड का सेवन अधिक डिप्रेशन होना अनियमित लाइफस्टाइल

पीसीओएस का इलाज : डाक्टरों के अनुसार इस बीमारी का इलाज नहीं है, लेकिन खान पान और कुछ ट्रीटमेंट से इसको रुका जा सकता है । इस बीमारी का सम्भन्ध हार्मेंस से होता है। पीसीओएस से पीड़ित महिलाओं को आमतौर पर डॉक्टर गर्भ निरोधक गोलियां खाने की सलाह देते हैं। जिससे हार्मोन के बिगड़े चक्र को ठीक किया जा सके। इसके अलावा अनचाहे बालों से छुटकारे के लिए कुछ ऐसे ट्रीटमेंट कराए जाते हैं जिससे बालों को बढ़ने से रोका जा सके,सही डाइट और शुद्ध खाना ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here