चिराग ने नीतीश ही नहीं तेजस्वी का भी किया खेल खराब, जानिये आंकड़े क्या कहते हैं?

0
8

आंकड़े बता रहे हैं कि लोजपा ने सिर्फ जदयू ही नहीं बल्कि एनडीए के ही मुकेश साहनी का पार्टी वीआईपी को भी 4 सीटों पर काफी नुकसान पहुंचाया।

New Delhi, Nov 12 : बिहार चुनाव परिणाम देखने के बाद कहा जा रहा है कि चिराग पासवान की पार्टी ने सुसाइड स्कवॉयड के तौर पर काम किया, एनडीए को बहुत बड़ा नुकसान पहुंचाया है, पर क्या यही हकीकत है, कि चिराग की वजह से सिर्फ एनडीए को नुकसान पहुंचा है, दरअसल बीजेपी और जदयू नेताओं द्वारा जितना नुकसान पहुंचाने के दावे किये जा रहे हैं, आंकड़े इस बात की पूरी तरह से तस्दीक नहीं कर रहे हैं, चिराग की अध्यक्षता वाली लोजपा ने एनडीए के साथ ही महागठबंधन को बी काफी नुकसान पहुंचाया है, उन 54 सीटों पर जहां लोजपा ने खेल बिगाड़ने का काम किया, जिसमें 25 जदयू की थी, इन सीटों पर लोजपा को जितने वोट मिले, वो जदयू की हार की मार्जिन से ज्यादा थे।

मुकेश साहनी को भी नुकसान
आंकड़े बता रहे हैं कि लोजपा ने सिर्फ जदयू ही नहीं बल्कि एनडीए के ही मुकेश साहनी का पार्टी वीआईपी को भी 4 सीटों पर काफी नुकसान पहुंचाया, Mukesh sahani चिराग पासवान का शुरु से ही स्टैंड था कि वो बीजेपी के खिलाफ ज्यादा सीटों पर नहीं लडेंगे, इसलिये बीजेपी की सिर्फ एक सीट पर ही गेम खराब किया, अब ये भी साफ हो गया कि चिराग ने महागठबंधन का भी नुकसान किया है।

राजद को नुकसान
चुनावी आंकड़े बता रहे हैं कि चिराग पासवान की लोजपा ने राजद को 12 सीटों का नुकसान पहुंचाया, कांग्रेस को 10 सीटों का, Chirag Modi भाकपा माले को बी 2 सीटें हरवा दिया, जाहिर है कि चिराग की पार्टी ने 24 सीटों पर महागठबंधन का खेल खराब किया है, हालांकि चिराग की लोजपा के कारण ही ज्यादातर महागठबंधन के उम्मीदवार जीते भी हैं।

इतने सीटों पर फायदा
हालांकि लोजपा के वोट काटने से राजद को 24 सीटों पर जीत मिली, कांग्रेस को 6 सीटों पर, लोजपा की वजह से नीतीश कुमार को भी 20 सीटों पर जीत मिली, chirag Tejashwi लोजपा के वोट काटने की वजह से मांझी की पार्टी हम को भी 2 सीटें और बीजेपी तथा वीआईपी को 1 सीट पर जीत मिली, जाहिर है कि लोजपा ने एनडीए को 6 सीटों का नेट नुकसान किया, तथा महागठबंधन को 6 सीटों का फायदा पहुंचाया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here