दुनिया को कोरोना वायरस से राहत देने को चीन ने लिए 2 बड़े फैसले


चीन: ने दुनिया को कोरोना से राहत पहुंचाने के लिए दो बड़े फैसलों का ऐलान किया है। AFP की रिपोर्ट के मुताबिक, चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने सोमवार को कहा कि चीन की ओर से तैयार की जाने वाली कोरोना वैक्सीन पूरी दुनिया के लोगों के लिए उपलब्ध होगी।

विश्व स्वास्थ्य संगठन के वार्षिक सम्मेलन को संबोधित करते हुए शी जिनपिंग ने यह भी कहा कि कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में चीन 2 बिलियन डॉलर (करीब 15139 करोड़ रुपये) की आर्थिक सहायता देगा। खासकर विकासशील देशों में कोरोना के खिलाफ लड़ाई के लिए ये पैसे अगले दो साल के दौरान दिए जाएंगे।

चीन ने यह भी दावा किया कि वह कोरोना संकट को लेकर हमेशा पारदर्शी रहा है। शी जिनपिंग ने कहा कि जैसे ही कोई वैक्सीन चीन तैयार करता है, यह पूरी दुनिया के लिए उपलब्ध हो जाएगी।

अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया सहित दुनिया के कई देश चीन पर कोरोना से जुड़ी जानकारी छिपाने के आरोप लगाते रहे हैं। इसके साथ-साथ चीन की एक लैब से कोरोना के लीक होने को लेकर भी आरोप सामने आते रहे हैं। इसकी वजह से अमेरिका और चीन के बीच हाल के हफ्तों में तनाव बढ़ गया।

वीडियो के जरिए WHO सम्मेलन में शामिल हुए शी जिनपिंग ने यह भी कहा कि चीन इस बात का समर्थन करता है कि कोरोना संकट खत्म होने के बाद कोरोना के खिलाफ ग्लोबल रेस्पॉन्स का मूल्यांकन किया जाए।

यूरोपियन यूनियन के 27 सदस्य सहित दुनिया के कई देशों ने कोरोना को लेकर WHO के शुरुआती रेस्पॉन्स की स्वतंत्र जांच करने की मांग की है।

इससे पहले अमेरिका की खुफिया एजेंसी के अधिकारियों के हवाले से ये खबर आई थी कि चीन के राष्ट्रपति ने WHO के प्रमुख से मांग की थी कि वह कोरोना से जुड़ी चेतावनी जारी करने में देरी करें। ये कथित घटना जनवरी की बताई गई थी। हालांकि, WHO ने ऐसी रिपोर्ट्स का खंडन किया था।