क्यों सेहत का खजाना माने जाते हैं भीगे हुए बादाम, जाने क्या हैं फायदे और कैसे करना चाहिये सेवन

0
8

दोस्तों बादाम खाने से दिमाग तेज होता है यह तो आपने सुन ही रखा होगा। ऐसा माना जाता है कि जो लोग नियमित बादाम का सेवन करते हैं उनकी बुद्धि तेज होती है और दिमाग स्वस्थ रहता है। आज हम आपको बादाम से जुड़े कुछ चीजें बताने वाले हैं,इसके से होने सेवन से होने वाले फायदे एवम यह किन चीजों में सहयोगी है सब बताने वाले हैं।

भूख को मिटाता है वजन घटाता है

बादाम में मोनोअनसैचुरेटेड फैट्स मौजूद होते हैं। इसलिय बादाम का सेवन करने से भूख अधिक नही लगती है। जो लोग अपनी अधिक भूख से परेशान हैं उन्हें बादाम को अपने नियमित आहार में शामिल करना चाहिए। इसके मदद से आप डाइट के अनुसार ही भोजन करेंगे जो कि आपके वजन को भी नियंत्रित रखेगा।

भीगे हुए बादाम के लाभ

यू तो बादाम मिठाई एवम हलवा खीर आदि की सजावट में अधिक उपयोग किया जाता है,क्योंकि यह उसके रूप और स्वाद दोनो में बढोत्तरी कर देता है। लेकिन कुछ लोग रोजाना भी बादाम खाने आदि होते हैं। बादाम का सेवन रोजाना करना आपके लिए बहुत अच्छा होता है। बादाम में व्याप्त प्रोटीन,मिनरल्स और विटामिन्स सेहत के लिए लाभकारी होते हैं। यदि आप रोजाना बादाम का सेवन करते हैं तो आपको चाहिए कि बादामों को रात भर भीगा लें उसके बाद सेवन करें। यह आपके स्वास्थ्य के लिए भी बेहद अच्छा साबित होगा। जानकारों के मुताबिक भीगे हुए बादाम में अधिक पौष्टिकता होती है।

दिल का रखे ख्याल

भीगे हुए बादाम का सेवन हृदय के लिए भी बहुत अच्छा माना गया है। भीगे हुए बादामों के सेवन से हृदय में उपस्थित बेड कॉलेस्ट्रॉल की मात्रा घट जाती है। इसके सेवन से हृदय रोग की संभावनाओं में भी कमी आती है।

पाचन में सहायक

भीगे हुए बादाम में ऐसी तत्व प्राप्त होते है जो व्यक्ति की पाचन क्रिया को मजबूती प्रदान करते हैं। इसमें से निकलने वाले तत्व अपच की शिकायत को दूर करके फैट को पचाने में मददगार होते हैं।

चेहरे को देता है निखार

जो लोग अपनी बढ़ती हुई उम्र से परेशान है। उन्हें भी भीगे हुए बादामों का सेवन करना चाहिए । इसमें एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है जो कि एंटी एजिंग में सहायक होता है।

इस बात का विशेष ध्यान दें कि रोजाना 7 से 8 बादाम का ही सेवन करें इससे अधिक होने पर यह शरीर को अत्याधिक गर्म कर सकता है जो कि नुकसान दायक है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here