पिता के खिलाफ शिकायत लेकर डीएम के पास 10 किमी चल पहुंची छठी की बच्ची, कही ये बात

0
7

अक्सर हम लोग इतनी बड़ी उम्र में भी कभी भी ये बात को नही सोचते है कि हम कभी सरकारी दफ्तर में अपनी शिकायत लेकर के जाए क्योंकि उसमे कई चक्कर लग जाते है और लोग परेशान भी होते है लेकिन यहाँ पर एक बच्ची ने वो किया है जिसकी उम्मीद शायद ही आप उससे करे क्योंकि अभी ये बच्ची सिर्फ और सिर्फ छठी क्लास की छात्रा है और ये अपने ही पिता के खिलाफ शिकायत लेकर के उपरी अफसरों के पास में पहुँच गयी जो अपने आप में काफी बड़ी और गजब की बात ही कही जायेगी.

ये बच्ची उडीसा के केंद्रपाडा की रहने वाली है और इस बच्ची ने डीएम ऑफिस तक जाने के लिए 10 किलोमीटर का पैदल सफ़र तय किया और वहाँ पर जाकर के अफसर से मिलकर के बाकायदा लिखित में अपनी शिकायत दी कि वो अपने पिता के खिलाफ कम्प्लेन देना चाह रही है.

बच्ची की शिकायत ये है कि उसके पिता उसके हिस्से का मिड डे मील और राशन अपने पास में रख लेते है. सरकार ने जब से राशन भेजना बंद किया था तब से वो कुछ पैसे खाते में भेजा करती थी अब पिता ने वहां पर अपना अकाउंट दे दिया है और जो भी थोड़े बहुत पैसे आते है वो खुद ले लेते है. जो रोज के थोड़े से चावल मिलते है वो भी उसके ही पिता ले लेते है. बच्ची ने बताया कि मेरी माँ दो साल पहले गुजर गयी थी और अब नयी माँ लाने के बाद पिता बदल गये है.

इस पर सरकारी दफ्तर से तुरंत प्रभाव से राशन और पैसा बच्ची को देने का आर्डर दिया गया है और बच्ची के साथ में सभ्य तरीके से व्यवहार करने के लिए भी कहा गया है. कही न कही ये इस बच्ची की अवेयरनेस को बताता है जो इसने एक कम उम्र में ही हासिल कर ली है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here