जेल में इस तरह से कटे थे अर्नब के दिन

0
2

हाल ही में आत्महत्या के आरोप में अर्नब गोस्वामी को मुबंई पुलिस ने 4 नवंबर को गिरफ्तार किया था अरेस्ट के बाद अर्नब को तलोज सेंट्रल जेल भी भेजा गया जानकारी के लिए बता दे की इस जेल में कई दुर्दांत अपराधी औऱ अंडरवर्ल्ड से जुड़े गैंगस्टर्स भी कैद थे ये ही नहीं तलोजा जेल को अंडरवर्ल्ड का नया अड्डा भी बताया जाता है।

वैसे अर्नब को कुछ दिनों बाद सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर जमानत पर रिहा कर दिया गया था और जेल से बहार आने के बाद उन्होंने बताया की उनके 8 दिन कैसे रहे थे अर्नब कहते है कि 8 दिन की हिरासत के तहत उन्हें दो अलग-अलग जेलों में रखा गया था सबसे पहले उन्हें अलीबाग के जिला जेल में 2 दिनों के लिए रखा गया उन्हें तलोजा सेंट्रल जेल शिफ्ट कर दिया गया।

अरब बताते है की उनकी जेल में अबू सलेम और अबू जिंदाल जैसे अपराधी थे इसके साथ ही अर्बन ने ये आरोप भी लगाया था की पुलिस ने उन्हें अलग-अलग जेल में रखकर उन्हें तोड़ना चाहते थे अर्नब जेल के जिस सेल में वह रहते थे उससे 20 मीटर की दूरी पर एक टीवी लगा हुआ था।

अर्नब कहते है की टीवी उनके साथ साथ 700 कैदियों के लिए भी था वैसे वो टीवी पर जो आ रहा था उसे साफ साफ नहीं देख पाते थे पर टीवी की आवाज उन्हें क्लियर सुनाई देती थी।उन्होंने ये भी बताया की जेल में बीते जेल में बीते उनके 8 दिन उनकी जिंदगी के सबसे सार्थक दिन रहे जेल का एक एक दिन उनकी ज़िन्दगी का सबसे यादगार दिन बन गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here