यूपी के इस जिले में मिली रहस्यमयी गुफा, पुरातत्व विभाग करेगा जांच

0
4

उत्तर प्रदेश के चित्रकूट में एक रहस्यमयी गुफा मिली है। यह स्थान प्रख्यात तीर्थ स्थान गुप्त गोदावरी से करीब एक किलोमीटर की दूरी​ स्थित है। गुफा मिलने से क्षेत्र में चर्चा जोरों पर है। खबर के अनुसार, सड़क निर्माण के दौरान पत्थर हटाने पर यह गुफा मिली है। मध्य प्रदेश के चित्रकूट के नायब तहसीलदार ने गुफा का निरीक्षण कर द्वार बंद करा दिया है। इसकी जानकारी पुरातत्व विभाग को भेजी जा रही है। माना जा रहा है कि जल्द ही पुरातत्व विभाग की टीम जायजा लेगी। इसके बाद गुफा की सच्चाई पता चल सकेगी। उधर, गुफा के फोटोज सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद प्रशासन ने निगरानी शुरू करा दी है।

नगर पंचायत चित्रकूट क्षेत्र में गोदावरी के पास से थर पहाड़ गांव के लिए नया रास्ता बनाया जा रहा है। सड़क निर्माण कार्य के दौरान एक बड़ा पत्थर हटाया गया, जिसके बाद यह गुफा मिली है। लोगों ने गुफा के फोटोज सोशल मीडिया पर शेयर किए। फोटोज वायरल होते ही प्रशासन सक्रिय हुआ। नायब तहसीलदार ऋषि नारायण सिंह टीम के साथ मौके पर पहुंचे और जायजा लिया। इसके बाद गुफा का प्रवेश द्वार बंद कराकर जिला प्रशासन के साथ ही पुरातत्व विभाग को भी रिपोर्ट भेजी गई।

मौके पर पहुंचे लोगों ने बताया कि 20 फीट तक की गहराई तक गुफा दिखाई पड़ रही है। गुफा की चौड़ाई एक मीटर है। अंदर अंधेरे की वजह से विशेषज्ञों की पड़ताल में ही सच सामने आ सकेगा। लोगों का कहना है कि इस रहस्यमयी गुफा के बारे में पता लगाया जाना चाहिए। इस स्थान को पर्यटन क्षेत्र घोषित किया जाए। बता दें, पर्यटन के नजरिए से यह गुफा महत्वपूर्ण हो सकती है। तुलसी गुफा के महंत मोहित दास के मुताबिक, तपोस्थली पर्वतों के बीच बसी है। कई पौराणिक रहस्य इनके अंदर छिपे हैं। गुफा को लेकर मध्य प्रदेश के पुरातत्व विभाग को तुरंत इसका संज्ञान लेकर संरक्षण करना चाहिए। उन्होंने कहा कि वह जिला प्रशासन को इससे संबंधित ज्ञापन जल्द ही सौंपेंगे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here