अर्नब गोस्वामी को गिरफ्तारी के बाद मृतक की पत्नी-बेटी ने छेड़ी जंग, अर्नब पर लगाये कई गंभीर आरोप

0
19

मुंबई पुलिस और अर्नब गोस्वामी के बीच शुरू हुआ विवाद लगातार बढ़ता जा रहा है। इसी कड़ी में मुंबई पुलिस ने बुधवार को रिपब्लिक टीवी के editor-in-chief अर्णब गोस्वामी को उनके वर्ली वाले घर से गिरफ्तार कर लिया है। गौरतलब है कि अर्नब पर इंटीरियर डिजाइनर अन्वय नाइक को खुदकुशी के लिए उकसाने के 2 साल पुराने मामले में उन्हें गिरफ्तार किया गया है।

Social Media

बता दे इंटीरियर डिजाइनर अन्वय नाइक ने खुदकुशी के दौरान एक सुसाइड नोट छोड़ा था। जिसमें उन्होंने कहा था इन लोगों की वजह से तीन फर्मों के मालिक- एआरजी आउटलायर (रिपब्लिक टीवी की संचालक), आईकास्‍टएक्‍स/स्‍काईमीडिया के फिरोज शेख और स्‍मार्टवर्क्‍स के नीतिश सारदा उनका बकाया नहीं चुका रहे हैं, जिसके चलते वह यह कदम उठा रहे हैं। बता दे अर्नब के बाद शेख और नीतिश सारदा को भी बुधवार को कांदिवली और जोगेश्‍वरी के उनके घरों से गिरफ्तार कर लिया गया है।

मृतक अन्वय नाइक के सुसाइड नोट के आधार पर अर्नब गोस्वामी के अलावा अन्य संलिप्त लोगों की भी गिरफ्तारी हो चुकी है। बता दे इस मामले में पुलिस ने कोर्ट में एक रिमांड एप्लीकेशन जमा की है, जिसमें पुलिस की ओर से कहा गया है कि पैसे ना मिलने की वजह से मृतक अपने वेंडर्स को बकाया नहीं चुका पा रहा था। इस वजह से वह काफी लंबे समय से मानसिक तनाव में था, जिसके चलते उन्होंने आत्महत्या कर ली।

Social Media

वहीं इस मामले पर अब अर्नब गोस्वामी पर कई गंभीर आरोप लगाते हुए मृतक की पत्नी और उनकी बेटी ने कई बड़े खुलासे किए है। मृतक की पत्नी आस्था नायक ने कहा है कि मेरे पति ने सुसाइड नोट छोड़ा था उसके बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की गई। इस सुसाइड नोट में फिरोज शेख और अर्नब गोस्वामी के नाम स्पष्ट रूप से लिखे गए थे उसके बावजूद कोई कार्रवाई नहीं हुई।

उन्होंने कहा कि अर्नब पर 83 लाख रुपए बकाया है और फिरोज पर 4 करोड रुपए। इसके आगे उन्होंने कहा कि अर्नब ने उन्हें कई बार धमकी दी। हम लोगों ने जब रुपए मांगे तो उन्होंने कहा तुम्हारी लड़की का कैरियर बर्बाद कर दूंगा। इतना ही नहीं हर बार जब भी उनसे पैसे मांगे जाते तो घर पर धमकी भरे फोन आने शुरू हो जाते थे।

Social Media

बता दे यह मामला पिछले साल बंद हो गया था, लेकिन राज्य के गृह मंत्री अनिल देशमुख के निर्देश पर पुलिस ने इसे एक बार फिर से इसे खोल दिया है। फिलहाल इस मामले में अर्नब गोस्वामी को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है और मामले की जांच पड़ताल जारी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here