किसान आंदोलन के समर्थन में मुकेश अंबानी ने किया ट्वीट? जाने क्या है इसकी पूरी सच्चाई

0
9

देश के अलग-अलग हिस्सों से आए किसान इन दिनों राजधानी दिल्ली में नए कृषि कानून के विरोध में प्रदर्शन कर रहे हैं। ऐसे में सोशल मीडिया पर कुछ ट्वीट के स्क्रीनशॉट काफी वायरल हो रहे हैं। इन स्क्रीनशॉट को लेकर यह दावा किया जा रहा है कि यह ट्वीट रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने किए है।

वायरल ट्वीट में किसानों को लेकर कई बातें लिखी गई है। साथ ही कांग्रेस और दूसरे विपक्षी दलों पर भी निशाना साधा गया है। ऐसे में यह सवाल उठता है कि क्या वाकई मुकेश अंबानी ट्वीट करके किसान और विपक्ष पर निशाना साध रहे हैं। जानिए क्या है पूरे मामले की सच्चाई…

Social Media

गौरतलब है कि 3 नए कृषि कानूनों को लेकर देश के अलग-अलग हिस्सों से आए किसान देश की राजधानी दिल्ली में सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। साथ ही इन कानूनों को वापस लेने की मांग भी कर रहे हैं। तो वहीं किसानों का यह भी आरोप है कि कॉर्पोरेट कंपनियों को फायदा पहुंचाने के लिए सरकार ने यह नए कृषि कानून बनाए हैं। ऐसे में अब किसानों ने अडानी-अंबानी कंपनी के खिलाफ भी मोर्चा खोल दिया है। इस दौरान उन्होंने मुकेश अंबानी और गौतम अडानी के पुतले भी जलाए।

Social Media

इस विरोध प्रदर्शन के दौरान अचानक से कुछ ट्वीट सोशल मीडिया पर वायरल होने लगे और इन्हें लेकर दावा किया जाने लगा कि यह ट्वीट मुकेश अंबानी के टि्वटर हैंडल से किए गए हैं, जिनमें लिखा गया है कि कांग्रेस के शासनकाल में किसान भूख से आत्महत्या करते थे और मोदी जी के शासन में किसान 6 महीने का राशन लेकर दिल्ली में घूम रहे हैं।

Social Media

ऐसे में जब इस मामले की जांच पड़ताल की गई तो पाया गया कि जिस ट्विटर अकाउंट से किसान आंदोलन से जुड़े हुए किए जा रहे हैं वह मुकेश अंबानी का अकाउंट नहीं है। मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड की पीआर टीम ने भी इस बात की पुष्टि खुद की है। इस अकाउंट से किए गए ट्वीट के जवाब में बहुत सारे लोग इस यूजर को ‘सर’ कह कर संबोधित कर रहे हैं तो जाहिर है कि लोग इसे मुकेश अंबानी का असली अकाउंट की मान रहे हैं।

Social Media

जांच के दौरान पता चला कि इस ट्विटर अकाउंट का हैंडल @mukeshambani01 मुकेश अंबानी है। इसे अप्रैल महीने में बनाया गया है और अब तक इस पर तकरीबन 21000 से ज्यादा फॉलोअर्स है। टि्वटर अकाउंट में इन ट्वीट के अलावा कई और ऐसी बातें भी नजर आई हैं जो कि गलत है। यह मुकेश अंबानी का असली ट्विटर अकाउंट नहीं है।

टि्वटर हैंडल से किसान आंदोलन में लगातार कई ट्वीट किए गए हैं। जांच में सामने आया कि इस टि्वटर हैंडल पर कई ट्वीट ऐसे किए गए हैं ,जिनमें एक ही हैशटैग का इस्तेमाल किया गया है। #मोदी किसानों की शान है… इस हैशटैग के साथ सिलसिलेवार टि्वटर हैंडल पर कई ट्वीट किए गए हैं।

Social Media

ऐसे में जांच के बाद यह साफ हो गया है कि यह ट्वीट मुकेश अंबानी के ऑफिशल अकाउंट से नहीं किए गए हैं ।मुकेश अंबानी की पीआर टीम ने भी इस बात की पुष्टि कर दी है। ऐसे में इस फर्जी अकाउंट के जरिए किसान आंदोलन संबंधी ट्वीट करके लोगों को भ्रमित करने की कोशिश की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here